हरियाणा में बंद होंगे 1026 सरकारी स्कूल – ये हैं वजह

205

संसार क्रान्ति: हरियाणा के सरकारी स्कूलों के लिए एक नई खबर सामने आयी हैं. दरअसल हरियाणा के सरकारी में बच्चों को संख्या लगातार कम हो रही हैं. जिससे इन स्कूलों पर ताले लगने की नौबत आ गई हैं. शिक्षा विभाग नें अगले सत्र में 1026 प्राइमरी स्कूलों को बंद करने का फ़ैसला लिया हैं. निदेशालय नें भी प्रदेश के सभी जिला मौलिक शिक्षा अधिकारियों से इसकी रिपोर्ट माँगी हैं.

आपको बता दें की हरियाणा में प्राइमरी स्कूलों की सबसे खस्ता हालत पूर्व शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा के गृहजिले महेंद्रगढ़ की हैं. जहां हरियाणा के सबसे ज्यादा प्राइमरी स्कूल बंद होंगे. महेंद्रगढ़ में बंद होने वाले प्राइमरी स्कूलों की संख्या 122 हैं. इन स्कूलों को बंद करने के बाद इनमे पढ़ रहें छात्रों को दूसरे नजदीकी स्कूलों में समायोजित किया जाएगा.

क्यों बंद होंगे इतने स्कूल

आपके ओर हमारे सबके मन में एक ही सवाल हैं की आख़िर विभाग 1026 स्कूल बंद क्यों करने जा रहा हैं. जब हमने इसकी पड़ताल की तो पता चला की जो भी स्कूल इसके अंतर्गत बंद किए जा रहें हैं, वहाँ 25 या उससे कम संख्या में बच्चें पढ़ रहें हैं. इन स्कूलों में बच्चों की संख्या को देखते हुए इन्हें दूसरे स्कूलों में मर्ज करने का फ़ैसला लिया गया हैं. आपको बता दें की इन स्कूलों में से लगभग 34 स्कूल ऐसे हैं जहां एक भी अध्यापक नहीं हैं. इनमे 2 स्कूल अंबाला, 1 स्कूल फतेहाबाद, 4 स्कूल गुरुग्राम, 1 स्कूल करनाल, 14 स्कूल महेंद्रगढ़, 3 स्कूल पंचकुला, 2 स्कूल रेवाडी, 1 स्कूल रोहतक और 5 स्कूल यमुनानगर के शामिल हैं.

5 छात्र वाले स्कूल

हरियाणा में लगभग 80 स्कूल ऐसे भी हैं जहां छात्रों की संख्या 5 या इससे भी कम हैं. इनमे 4 स्कूल यमुनानगर, 4 स्कूल सिरसा, 6 स्कूल रेवाडी, 16 स्कूल महेंद्रगढ़, 10 स्कूल कुरुक्षेत्र, 4 स्कूल करनाल, 9 स्कूल भिवानी, 7 स्कूल चरखी दादरी. फरीदाबाद, जींद, पलवल, पंचकूला में 1-1 छात्र हैं. गुड़गांव, हिसार, सोनीपत, झज्जर, कैथल में 3-3 छात्रों वाले स्कूलों पर जल्द ही ताले लगेंगे.

किस जिले में कितने स्कूल होंगे बंद

  • महेंद्रगढ़ 122
  • रेवाड़ी 110
  • यमुनानगर 104
  • कुरुक्षेत्र 96
  • भिवानी 72
  • अम्बाला 57
  • पंचकूला 57
  • चरखीदादरी 56
  • सिरसा 50
  • झज्जर 48
  • गुड़गांव 41
  • फतेहाबाद 38
  • हिसार 38
  • करनाल 31
  • कैथल 30
  • सोनीपत 26
  • जींद 12
  • पलवल 12
  • पानीपत 9
  • फरीदाबाद 8
  • रोहतक 7
  • नूंह 2
Previous articleमंत्री धानक नें दी गौतम को नसीहत – मर्यादा में रहकर बात करें गौतम
Next articleदिल्ली इलेक्शन कैन्सल करवाना चाहती हैं भाजपा – संजय सिंह