मोबाइल के UPI से पैमेंट करते हैं तो रहिए सावधान – ऐसे लूट सकते हैं आपका पैसा

159

आज का युग डिजिटल युग बन चूका है, जहां हम हर तरह का कामकाज ऑनलाईन कर रहे हैं वहीं पैसों का लेनदेन भी डिजिटल रूप ले चूका है, जिसका रूख तेजी से बढ़ रहा है। कोरोना काल की परछाई जहां पर लोगों के काम-काज पर पड़ी है वहीं इसका इसका असर सीधा-सीधा हमारे डिजिटल पैमेंट पर भी पड़ा है। अगर आप भी पैसों का लेन-देन ऑनलाईन यूपीआई के माध्यम से करते हैं तो आपको सावधानी बरतनी पड़ेगी।

क्योंकि इस दौरान सबसे ज्यादा धोखाधड़ी का मामला यूनिफाईड पैमेंट इंटरफेस यानि की यूपीआई के जरिये सामने आ रहा है। बहुत सारे लोग गूगल प्ले स्टोर या एप्पल स्टोर से विभिन्न प्रकार की एप्स डाउनलोड कर यूपीआई के माध्यम से कर रहे हैं, जिनमें से कुछ एप्स प्रमाणित नहीं होती और लोग धोखा खा जाते हैं। जिससे लोग साईबरस के जाल में फंस जाते हैं और आपकी सारी निजी जानकारियां जालसाजों द्वारा हैक कर ली जाती है।

जालसाज एक सोची समझी चाल के माध्यम से आपको चूना लगा जाते हैं जिसका आपको पता भी नहीं चलता। इसमें जालसाज आपको एसएमएस के जरिये एक अनाधिकृत लिंक भेजते हैं, जिसे आप असली लिंक समझ कर क्लिक करते हैं और पेमैंट कर देते हैं। जिससे आपका अकांउट हैक कर लिया जाता है और आपका सारा पैसा अपने अंकाउट में ट्रांसफर कर लेते हैं। इस तरह की जालसाजी से बचने के लिए आपको पूरी तरह सर्तक रहले की आवश्यकता है, ध्यान रखें कि कोई भी सरकारी बैंक या कम्पनी एसएमएस के माध्यम से आपकी वितिय जानकारी नहीं लेता है.

आपको हमेशा अधिकृत ऐप्स के माध्यम से ही डिजिटल लेन देन करना चाहिए। समय-समय पर अपने फोन पर मिलने वाली स्पैम जानकारी पर नजर रखनी चाहिए। अगर आपके साथ इस तरह की कोई जालसाजी होती है तो सबसे पहले आपको बैंक में जाकर सीनियर प्रतिनिधि को जानकारी देनी चाहिए।

Previous articleआज हरियाणा में बारिश के आसार – इस क्षेत्रों में हो सकती हैं बूंदाबांदी
Next articleअमरूद खाने से होते हैं चौंका देने वाले फायदे – ये पढ़कर आप यह जाएँगे हैरान