सस्ता लोन के नाम पर 2 करोड़ रुपए से ज्यादा की ठगी

207

इन दिनों भले ही देशभर में कोरोना काल की स्तिथि बनी हुई है लेकिन इसके बावजूद भी चोरी और ठगी के केस कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं. बेटे दिन कोरबा पुलिस ने दो शातिर ठगों को अपनी गिरफ्त में लिया है. यह दोनों ठग आम जनता को मीठी बातों में बहला-फुसला कर लोन देने के बहाने उनसे बचा खुचा रुपया भी छीन लिया करते थे. इतना ही नहीं बल्कि यह ठगी के दौरान ग्राहकों को अपनी पहचान बैंक अधिकारी की बताया करते थे. रिपोर्ट्स के अनुसार इन दोनों आरोपियों ने अब तक 20 से ज्यादा लोगों के साथ हेराफेरी अंजाम दी है जिससे इन्होंने करीब 2 करोड़ रूपये भी इकट्ठे किए हैं.

बजाज कंपनी के अधिकारी बन कर लूटा

पुलिस ने दोनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया है और पूछताछ शुरू कर दी है. बता दें कि यह पूरा मामला रामपुर थाना क्षेत्र का है. यहाँ आरपी नगर चौकी निवासी रविदास महंत ने ठगी की शिकायत दर्ज करवाई थी. रविदास के अनुसार जनवरी महीने में उसने बजाज फाइनेंस कंपनी से ऑनलाइन लोन के लिए अप्लाई किया था. जिसके बाद गौरव सावंत और प्रेमचंद कोठारी नामक दो युवकों के कॉल्स आना शुरू हो गए थे. उन दोनों ने खुद को बजाज कंपनी के अधिकारी बताया और एक करोड़ रूपये देने की बात भी कही. इन आरोपियों ने मीठी बातें करके रविदास से धीरे धीरे करके 26 से 30 लाख रूपये की वसूली कर ली जिसके बाद पीड़ित व्यक्ति ने तुरंत इस बात की जानकारी पुलिस को दी.

शुरू की गई जांच

मामले को गंभीरता से लेते हुए एसपी अभिषेक मीणा ने एडिशनल एसपी राहुल शर्मा को जांच-पड़ताल करने के आदेश दे दिए हैं. इसके लिए एक ख़ास टीम का गठन भी किया गया है. टीम ने इन आरोपियों के मोबाइल नंबर ट्रेस करके उन्हें गिरफ्तार किया है. आरोपी अभी तक कम से कम 2 करोड़ रूपये की ठगी कर चुके हैं. ऐसे में पुलिस ने इनके खिलाफ धारा 420 के तहत शिकायत दर्ज कर ली है.

Previous articleखुशखबरी: अब रोजाना खुलेगी दुकानें – सरकार ने वापस लिया लॉकडाउन का निर्णय
Next article40 परीक्षाओं में हुए असफल – नहीं टूटा हौंसला और बन गये IRS अफसर