चाईना ने LAC पर तैनात किए 20 हजार सैनिक, भारत ने भी बढ़ाई सैनिकों की संख्या

156

इन दिनों चीन और भारत के बीच चल रहा विवाद काफी सुर्खियाँ बटोर रहा है. हाल ही में भारतीय सरकार ने टिक-टॉक समेत 59 एप्स को भारत में सुरक्षा के लिए बैन कर दिया है. वहीँ बात लद्दाख की एलएसी की क्ल्रें तो अब चीनी आर्मी पीएलए ने पूर्वी लद्दाख एरिया के पास अपने सैनिकों की संख्या बढ़ा दी है. सूत्रों के अनुसार चीन ने अब 20,000 से अधिक सैनिकों को वास्तविक नियंत्रण रेखा पर तैनात कर दिया है. वहीँ भारत भी लगातार चीन की आर्मी सेना पर नजर बनाये हुए है. जिसके चलते अब इंडियन आर्मी ने भी अपनी दो डिवीज़न को एलएसी पर तैनात कर दिया है.

बता दें कि चीन की आर्मी ने पूर्वी लद्दाख सीमा रेखा पर 20,000 यानि दो डिविजन सैनिकों को तैनात कर दिया है जबकि उत्तरी शिनजियांग में उन्होंने 10,000 सैनिक तैनात किए हुए हैं जोकि करीब 1000 किलोमीटर की दूरी पर मौजूद हैं. यदि चीन के सैनिक हमारी सीमा की ओर आगे बढ़ते हैं तो उन्हें यहाँ ता पहुँचने में कुल 48 घंटे का समय लग सकता है.

चीन लगातार बढ़ा रही है सैनिकों की संख्या

सरकारी सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार भारतीय सेना चीनी आवाजाही पर पूरी तरह से नजर रख रहे हैं. उन्होंने बताया कि चीन और भारत पिछले 6 हफ़्तों से कूटनीतिक और सैन्य स्तर पर बातचीत कर रहे हैं परन्तु अभी तक चीन ने अपनी तरफ सैनिकों की गिनती को कम नहीं किया है और ना ही अपने उपकरणों में कमी आने दी है.

भारत भी है तैयार

रिपोर्ट्स के अनुसार चीन की सीमा पर अक्सर दो डिविजन सैनिक होते हैं लेकिन इस बार भारत भी पीछे नहीं है. अब भारतीय सेना ने भी दो हजार किलोमीटर दूरी पर 20,000 सैनिकों को तैनात कर रखा है. ख़बरों की माने तो चीन और भारत के बीच बातचीत के बाद भी दोनों देशों में तनाव कम होने के आसार नहीं दिखाई दे रहे. मन जा रहा है कि एलएसी पर दोनों देशों की सेनाएं सितंबर से अक्टूबर महीने तक तैनात रह सकती है. यानि जब तक लद्दाख में बर्फबारी शुरू नहीं होती, तब तक दोनों देशों की आर्मी सेना सीमा पर मौजूद रहेगी.

Previous articleअब घर बैठे बनवाएँ लर्निंग लाइसेंस – जानिए आसान तरीका
Next articleहरियाणा में 4 और 6 जुलाई के बीच तेज बारिश का अनुमान