दावा: कोरोना के मरीज का पोस्टमार्टम करने पर पता चला कि ये कोई वायरस नहीं है – पड़ताल

320

सोशल मीडिया पर कई दिनों से एक मैसेज वायरल हो रहा हैं जिसमें दावा किया जा रहा हैं की कोरोना कोई वायरस नहीं हैं। इसमें कहा जा रहा हैं की इटली ने कोविड-19 से संक्रमित एक व्यक्ति की डेड बॉडी का पोस्टमार्टम किया है. इस पोस्टमार्टम में सामने आया कि कोरोना कोई वायरस नहीं है। दावे में यह भी कहा गया हैं WHO द्वारा कोरोना संक्रमित मरीज़ों के पोस्टमार्टम पर रोक हैं। इसके बावजूद इटली ने उसका पोस्टमार्टम कर बड़ा खुलासा किया हैं।

देखें पूरा दावा “इटली ने किया मृत कोरोना मरीज का पोस्टमार्टम हुआ बड़ा खुलासा इटली विश्व का पहला देश बन गया है जिसनें एक कोविड-19 से मृत शरीर पर पोस्टमार्टम किया और एक व्यापक जाँच करने के बाद पता लगाया है कि वायरस के रूप में कोविड-19 मौजूद नहीं है, बल्कि यह सब ग्लोबल घोटाला है।”

पड़ताल

संसार क्रान्ति न्यूज टीम द्वारा जब इसकी पड़ताल की गयी तो हमने पाया की पोस्ट और मैसेज में किया गया दावा झूठा व फ़र्जी हैं। आपको बता दें की हमें ऐसी कोई मीडिया रिपोर्ट नहीं मिली हैं, जिससे वायरल हुए इस दावे की पुष्टि होती हो। इसके अलावा इटली के स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़े के मुताबिक 18 अप्रैल को इटली में कोरोना वायरस से 251 मौतें हुईं हैं।

Previous articleहरियाणा में कोरोना का हड़कंप – कल मिले 10 हजार करीब नए मामले
Next articleअजीब चोर: चोरी हुई कोरोना वैक्सीन चोरों ने लौटाई वापस