प्राइवेट स्कूलों की मनमानी पर बोले शिक्षा मंत्री – स्कूल नहीं बदल सकेंगे पुस्तकें व वर्दी

148

हरियाणा: प्रदेश के शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने कहा की Covid-19 को फैलने से रोकने के लिए देश के सभी राज्यों में स्कूलों को बंद करना पड़ा. लेकिन छात्रों की पढ़ाई जारी रखने के लिए ऑनलाइन शिक्षा शुरू हो चुकी हैं. शिक्षा मंत्री ने कहा हैं की कोरोना के कारण आर्थिक स्थिति में बहुत बदलाव हुआ हैं. जिसे देखते हुए हरियाणा सरकार ने प्राइवेट स्कूलों को फीस ना बढ़ाने के आदेश दिए हैं.

शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने बताया की फीस के साथ-साथ पुस्तक व स्कूलों की वर्दी में बदलाव ना करने के आदेश भी दिए गये हैं. प्राइवेट स्कूलों को बिल्डिंग फण्ड, रखरखाव फण्ड, प्रवेश शुल्क, कम्प्यूटर शुल्क, ट्रांसपोर्ट शुल्क आदि न लेकर मासिक आधार पर केवल ट्यूशन फीस लेने के निर्देश दिए गये हैं. शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने कहा कि यदि कोई अभिभावक वर्तमान में फीस का भुगतान करने में असमर्थ है. तो वह बाद में किस्तों में फीस देने के लिए लिखित रूप से स्कूल प्रशासन से अनुरोध कर सकता है।

आपको बता दे कि राज्य के सरकारी व निजी स्कूलों को अपने कार्यालय खोलने की अनुमति दे दी गई है. ताकि स्कूल अपने एडमिशन, पाठ्यपुस्तकों आदि का आवश्यक कार्य निपटा सकें. शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने कहा कि हरियाणा सरकार स्कूली विद्यार्थियों के अभिभावकों के हितों को ध्यान में रखकर ही कदम उठा रही है और किसी के साथ भी भेदभाव नहीं होने दिया जाएगा.

Previous articleजींद, सोनीपत, करनाल और कुरुक्षेत्र में कोरोना का कहर जारी – आज की रिपोर्ट
Next articleलॉकडाउन में भी प्रेमियों का प्यार नहीं हो रहा लॉक, कोर्ट में आ रहें हैं 20% से अधिक केस