सपना चौधरी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला – सपना ने किया कोर्ट में सरेंडर

289

बात 13 अक्टूबर 2018 की हैं जब दोपहर 3 बजे से रात 10 बजे तक आशियाना के स्मृति उपवन में हरियाणा की मशहूर ऐक्ट्रेस और डान्सर सपना चौधरी का लाइव कंसर्ट था. लेकिन सपना चौधरी ने वह कंसर्ट करने से इनकार कर दिया. अचानक यह कंसर्ट कैंसिल होने की वजह से हजारों संख्या में सपना के प्रशंसकों ने हंगामा मचाया था. इसी मामले में Sapna Chaudhary पर मुकदमा दर्ज किया गया था.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक डांसर सपना चौधरी (Sapna Chaudhary) को धोखाधड़ी के एक पुराने मामले में मंगलवार को लखनऊ कोर्ट में पेश हुईं। लखनऊ ACJM 5 की कोर्ट में धोखाधड़ी के एक पुराने मामले में सपना चौधरी ने खुद को सरेंडर किया। बता दें की इस केस में सपना चौधरी को अंतरिम बेल मिल गई है। हालांकि अभी उनकी मुश्किलें कम नहीं हुई हैं। एसीजेएम शांतनु त्यागी ने 25 मई तक के लिए अभियुक्ता सपना चौधरी को सशर्त अंतरिम जमानत पर रिहा करने का आदेश दिया। इनकी नियमित जमानत अर्जी पर उसी दिन सुनवाई होगी।

अब सपना चौधरी को इसी मामले को लेकर लखनऊ कोर्ट ने मंगलवार को 25 मई तक सशर्त अंतरिम जमानत दे दी. एसीजेएम शांतनु त्यागी ने सपना चौधरी को 20-20 हजार की दो जमानत और व्यक्तिगत मुचलका दाखिल करने पर 25 मई तक रिहा करने का आदेश दिया है. आपको बता दें की अभिनेत्री सपना चौधरी के खिलाफ कोर्ट ने गैर जमानती वारंट जारी किया था.

सपना के कोर्ट में पेश नहीं होने पर 17 नवंबर 2021 को सपना चौधरी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया था. 23 नवंबर 2021 को सपना चौधरी ने गिरफ्तारी वारंट निरस्त करने की मांग की थी जिसे अदालत ने खारिज कर दिया था. बता दें की 21 दिसंबर 2021 को सपना की अग्रिम जमानत अर्जी भी खारिज कर दी गई थी. इस मामले में सपना व 6 अन्य लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी और अन्य धाराओं के तहत FIR दर्ज कराया गया था.

Previous articleअगर करने है बाबा बैजनाथ के दर्शन – तो जाने हरियाणा रोडवेज का ये रूट
Next articleजल्द मिलेगी भीषण गर्मी से राहत – इस बार समय से पहले आएगा मानसून