रसोई गैस सिलेंडर पर होता हैं 40-50 लाख तक का बीमा

160

(नवीन नरवाना): आजकल सभी के घर में गैस सिलेंडर का इस्तेमाल किया जाता हैं. कई बार देखा गया हैं कि लिंकेज या किसी लापरवाही के कारण सिलेंडर फट जाता हैं. जिससे परिवार के लोगों कि जान तक चली जाती हैं. ऐसे में क्या आप जानते हैं आपके घर में रखे सिलेंडर पर भी आपको बीमा की सुविधा उपलब्ध करवाई जाती है. यह बीमा कवर मुफ्त में उपलब्ध होता है.

बड़ा रिस्क होने के बावजूद लोग इसके बीमे के बारे में अनजान हैं. बता दें कि गैस उपभोक्ता के हादसे में मिलने वाला कवर 40 से 50 लाख तक होता हैं. बता दें कि यह बीमा केवल रजिस्टर्ड ग्राहकों के पंजीकृत आवास पर गैस सिलेंडर से दुर्घटना होने की सूरत में बीमा कवर की सुविधा दी जाती है. दुर्घटना में अगर किसी कि जान चली जाती हैं तो परिवार के लोग अदालत में मुआवजे के लिए क्लेम कर सकते हैं. अदालत पीड़ित की उम्र, तनख्वाह व अन्य परिस्थितियों को देखते हुए मुआवजे की रकम तय करती है।

भगवान ना करें अगर आपके साथ कोई ऐसा हादसा होता हैं तो आपको सबसे पहले स्थानीय पुलिस स्टेशन में इसकी सूचना देनी होगी. हादसे के 5 दिन के अंदर ही गैस एजेन्सी को इसकी जानकारी देनी होगी. इसके बाद डिस्ट्रीब्यूटर आयल कंपनियों और बीमा कम्पनी को इसकी जानकारी देते हैं. दुर्घटना में मृत्यु होने पर मृत्यु प्रमाण पत्र उपलब्ध कराना जरुरी होता हैं. इसके बाद मामले कि जाँच करके आपको क्लेम दे दिया जाएगा.

बीमा शर्तें

  1. ISI मार्क वाले गैस चूल्हे का ही उपयोग होना चाहिए.
  2. चूल्हे का स्थान, सिलेंडर रखने के स्थान से ऊंचा होना चाहिए.
  3. आपके घर में इस्तेमाल होने वाला गैस कनेक्शन वैध होना चाहिए.
  4. गैस इस्तेमाल की जगह पर बिजली का खुला(नंगा) तार नहीं होना चाहिए.
  5. गैस कनेक्शन में एजेंसी से मिली पाइप व रेग्युलेटर का ही इस्तेमाल होना चाहिए.
Previous articleRSS की कुटुंब शाखा में शामिल हुए 50 लाख परिवार
Next articleक्या आपका ATM कार्ड बंद होने वाला हैं ?