लॉकडाउन में MDU ने बदला प्रश्न-पत्र का पैटर्न, अब 9 में से करने होंगे केवल 5 प्रश्न

176

कोरोना वायरस के प्रभाव से देश को बचाने के लिए समय समय पर सरकार लॉकडाउन बढ़ा रही है. ऐसे में इसका असर न केवल आम जनता बल्कि स्कूल व कॉलेज के छात्रों पर भी देखने को मिला है. इससे स्टूडेंट्स की पढाई का सिस्टम पूरी तरह से बदल चुका है. अब विद्यार्थियों को ऑनलाइन माध्यम से पढ़ाई करवाई जा रही है. लेकिन स्टूडेंटस और टीचर्स का आमने-सामने ना बैठना भी पढ़ाई पर बुरा असर डाल रहा है. इन्ही हालातों से देश के बच्चों भविष्य बचाने के लिए MDU University ने एक बड़ा बदलाव किया है. उन्होंने अब प्रश्न-पत्रों का पैटर्न चेंज कर दिया है.

MDU के अनुसार अब सभी यूजी-पीजी स्टूडेंट्स की ऑनलाइन स्टडी के मुताबिक ही उनका प्रश्न-पत्र तैयार किया जायेगा. इसलिए प्रश्न पत्र में कुछ नए बदलाव लाये गये हैं. इससे विवि के तहत पढ़ाई कर रहे पांच लाख से भी अधिक विद्यार्थियों को फायदा हो सकता है. इनमें 9 जिलों के स्टूडेंट्स आते हैं, रोहतक, सोनीपत, झज्जर, गुरुग्राम, फरीदाबाद, पलवल, मेवात और इसके अलावा रेवाड़ी और भिवानी के कुछ कॉलेज ने कोर्स पर स्टे ले रखा है, उन्हें भी फायदा मिलेगा. इस बदलाव से ग्रेजुएट, पोस्ट ग्रेजुएट, बीएड, डिस्टेंस व अन्य सभी रिअपीयर व वार्षिक परीक्षा के विद्यार्थियों को लाभ देखने को मिलेगा.

MDU द्वारा जारी किये गये बयान के अनुसार स्टूडेंट्स को पढ़ाई या सिलेबस में किसी प्रकार की दिक्कत न आये इसी के चलते यह बदलाव किया जा रहा है. इसलिए अब 9 प्रश्नों में से स्टूडेंट्स को केवल 5 प्रश्न का ही उत्तर देना होगा.

Previous articleहरियाणा में आँकड़ा पहुँचा 1500 के पार, मास्क न पहनने और थूकने पर लगेगा 500 रूपये जुर्माना
Next articleआज हरियाणा में आए 217 मामले – आँकड़ा हुआ 1700 के पार