चंडीगढ़ PGI में “एमडबल्यू” वैक्सीन का परीक्षण – मरीज हो रहे हैं ठीक

186

(Naveen Narwana): कोरोना संकट के चलते चंडीगढ़ PGI को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी हैं. बता दें कि चंडीगढ़ PGI ने दावा किया है कि उन्होंने 6 मरीजों पर माइकोबैक्टीरियम डब्ल्यू (एमडब्ल्यू) वैक्सीन का इस्तेमाल किया हैं. कोरोना मरीजों पर वैक्सीन का इस्तेमाल बिल्कुल सुरक्षित और सकारात्मक पाया गया है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार चंडीगढ़ PGI ने कुष्ठ रोग के इलाज में इस्तेमाल कि जाने वाली दवा माइकोवैक्टेरियम डब्ल्यू  (MW) वैक्सीन को 6 मरीजों पर आजमाया है. बताया जा रहा हैं कि इसके सकारात्मक परिणाम नजर आए हैं. चंडीगढ़ PGI द्वारा बताया गया कि जिन मरीजों को कोरोना ट्रीटमैंट के दौरान ऑक्सीजन की जरूरत थी, उन मरीजों को MW वैक्सीन की 0.3 ML दवा का इंजेक्शन देने से काफी सुधार देखा गया हैं.

बता दें कि इसके उपयोग के लिए ड्रग कंट्रोलर ऑफ इंडिया की अनुमति भी मिल चुकी है. PGI के डायरेक्ट प्रो. जगतराम ने बताया कि इस वैक्सीन का पूर्व में PGI के Pulmonary Sepsis (फेफड़े से जुड़ी गंभीर बीमारी) के मरीजों पर सफल ट्रायल किया जा चुका है. परिणाम संतोषजनक आए हैं इसलिए उम्मीद है कि कोरोना के इलाज में भी यह वैक्सीन कारगर साबित होगी.

6 मरीजों पर किया गया परीक्षण

मीडिया रिपोर्ट में बताया गया हैं कि डॉक्टरों ने लगातार तीन दिन तक इस दवा का प्रयोग किया और पाया कि मरीज पर वैक्सीन का इस्तेमाल बिल्कुल सुरक्षित और सकारात्मक है. बताया गया हैं कि इस दवा का इस्तेमाल पहले कुष्ठ, तपेदिक और निमोनिया ग्रस्त मरीजों पर भी किया गया था और उनमें भी दवा के इस्तेमाल सुरक्षित पाया गया था.

Previous articleहरियाणा में रोजाना बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले – आज सामने आए 7 नए मामले
Next articleदिल्ली-सोनीपत बॉर्डर 3 मई तक सील, जिला मजिस्ट्रेट का आदेश