ध्यान दें – बाजार में आया हैं नकली अदरक, ऐसे करें पहचान

842

यूं तो हर रसोईघर में अदरक का इस्तेमाल किया जाता है. ख़ास तौर पर इसकी तासीर गर्म होने के चलते सर्दियों में लोग इसका सेवन करना अधिक पसंद करते हैं. अदरक वाली चाय हो तो बात ही कुछ और होती है. लेकिन आप जिस दूकान या टपरी से अदरक लेते आए हैं, क्या आपको यकीन है कि वहां से आपको असली खरी अदरक मिल रही है? दरअसल मार्किट में नकली अदरक आ चुका है जोकि दिखने में असली लगता है परन्तु वह एक प्रकार के पहाड़ी पेड़ की कच्ची जड़ है. ऐसे में उसके सेवन से ना तो आपको वह स्वाद नसीब होगा और ना ही वह गुण, जिसके आप हकदार हैं.

दुकानदार कमा रहे हैं मुनाफ़ा

बता दें कि पहाड़ी पेड़ की जड़ काफी ससरी होती है ऐसे में वह बेशक गुणकारी नहीं है लेकिन दुकानदारों को अधिक मुनाफ़ा कमा कर दे रही हैं. इतना ही नहीं बल्कि इस नकली अदरक की खेती भी अब जोरो-शोरों से की जा रही है. जो लोग इसको बेचते हैं वह इसको कच्ची अदरक बताते हैं. लेकिन चलिए हम आपको बताते है कि कैसे आप नकली और असली अदरक के फर्क को आसानी से समझ सकते हैं और सतर्क रह सकते हैं.

इन बातों का रखें ख्याल:

यदि आप मार्किट से अदरक लेने जा रहे हैं तो असली और नकली का ख्याल जरुर करें. इसके सही फर्क को समझने के लिए ध्यान दें कि जो अदरक आप ले रहे हैं, उसकी त्वचा पतली हो और जब आप उसको नाखून से रगड़े तो वह त्वचा छिलने लगेगी. इसके बाद अब आप उसको अच्छे से सूंघ कर देख लें उसकी तीखी खुशबु से आप समझ सकें कि वह असली है और अगर उसमे से स्मेल नहीं आ रही तो इसका मतलब साफ़ है कि वह अदरक की जगह कुछ और ही है जिसको बेचा जा रहा है.

Previous articleकभी सरकारी अस्पताल में हुआ करते थे डॉक्टर – अब दिल्ली पुलिस में हैं DCP
Next articleराहत वाली खबर – हरियाणा रोडवेज़ की लम्बे रूटों पर सेवाएँ दौबरा शुरू, ऐसे होगी टिकट बुकिंग