अब हरियाणा के इस जिले में लगेगा 14 दिन का लॉकडाउन – पढ़िए पूरी खबर

192

संपूर्ण भारत में लॉकडाउन खुलने के बावजूद अब हरियाणा में दिल्ली से सटे कुछ क्षेत्रों में फिर से पांबदिया बढ़ा दी गई है। जिसका मुख्य कारण हरियाणा का औद्योगिक क्षेत्र धारूहेड़ा बताया जा रहा है। कुछ दिनों पहले ही इस क्षेत्र में कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए नपा क्षेत्र व बाहरी आठ कॉलोनियों में 14 दिनों तक फिर से लॉकडाउन बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। राहत की बात यह है कि यह संपूर्ण लॉकडाउन नहीं होगा, इसमें थोड़ी बहुत ढील दी जा सकती है। जिसके दौरान रोजमर्रा की जिन्दगी की आवश्यक वस्तुओं की दुकानें इत्यादि खुली रहेंगी। जो कि निर्धारित समय तक ही खुली रह सकेंगी तथा बाकि सभी प्रतिष्ठानों के खोलने पर पूर्णयता रोक है।

उपायुक्त यशेंद्र सिंह ने बताया कि क्षेत्र में लगभग 500 से ज्यादा कोरोना केस आने की वजह से यह ठोस कदम उठाया गया है। हालात इतने नाजुक हो गये हैं कि लोगों को अब अपने घर से बाहर निकलने में डर लगने लगा है। कुछ नौकरीपेशा या बिजनेस से सम्बन्धित लोग आस पास के शहरों में कार्य करने के लिए जाते थे। उन लोगों के लिए यह एक बड़ी चेतावनी बन चुकी है, क्योंकि उनके आवागमन में और कार्य में पूर्ण रूप लगाम लग गई है। इसके साथ-साथ भिवाड़ी में आंशिक लॉकडाउन की वजह से वहां के लोग खरीददारी इत्यादि करने के लिए धारूहेड़ा में आते जाते हैं।

इस तरह के हालातों को देखते हुए कोरोना के केस ओर अधिक फैलने की आशंका है। जिसकी वजह से जिलाधीश ने नोटिस जारी करते हुए आपदा प्रबंधन अधिनियम के प्रावधानों एवं दंड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा में दी गई शक्तियों का प्रयोग करते हुए क्षेत्र की ही समस्त नगरपालिका, खंडों व कॉलोनियों को 15 अगस्त से संपूर्ण लॉकडाउन के अंतर्गत चिह्नित किया है, जो कि लगभग दो सप्ताह तक रहेगा। जिसमें नारायण विहार, कर्ण कुंज, विकास नगर, निरंजन कॉलोनी, गोयल कॉलोनी, बुध विहार, भगवान सिंह कॉलोनी, डॉ. फूल सिंह कॉलोनी इत्यादि शामिल हैं।

जिलाधीश के आदेशानुसार इन क्षेत्रों में सार्वजनिक स्थान जैसे मॉल, बाजार, पार्क व धार्मिक स्थल इत्यादि पर पूर्णतया प्रतिबंध रहेगा। केवल वही स्थान ही खुले रहेंगे जिसमें लोगों के आम जीवन पर अधिक प्रभाव न पड़े। किसी भी प्रकार की इमरजैंसी के लिए पुलिस, डॉक्टर, केमिस्ट, अग्निशमन, बिजली, जलापूर्ति, आदि से संबंधित सेवाएं ही पहले की तरह चलती रहेंगी। रोजमर्रा के जीवन में उपयोग करने वाली दुकानें इत्यादि समय अनुसार ही खुलेंगी व बन्द होंगी।

जिसमें किराना, दूध, फल, सब्जी, वाहन रिपेयर संबंधित दुकानें इत्यादि होंगी। किराना की दुकानें सुबह के 7 बजे से लेकर प्रातः 11 बजे तक ही खुलेंगी तथा हॉम डिलीवरी जैसी सुविधाओं को भी उक्त समय के अनुसार ही सेवाएँ प्रदान करने की अनुमति होंगी। नौकरीपेशा कर्मचारी पर किसी तरह की पाबंदी नहीं रहेगी तथा औद्योगिक इकाइयों पर भी किसी तरह की पाबंदी नही लगाई जाएगी। अवहेलना करने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएगी।

Previous articleअब गाड़ियों में तेल भरवाने की भी होगी लिमिट – देखें खबर
Next articleहरियाणा को छोड़कर नहीं जाएगी मारुति कंपनी – डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला