अब घर बैठे बनवाएँ लर्निंग लाइसेंस – जानिए आसान तरीका

189

डिजिटल दौर में अब सरकार लाइसेंस बनाने के तरीके को और भी अधिक आसान बना रही है. यानि अब लोगों को घंटों स्फ्त्रों के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं होगी बल्कि घर बैठे बैठे इंटरनेट की मदद से आप अपना ड्राइविंग लाइसेंस व आरसी अप्प्लाई कर सकते हैं. इसके लिए भारतीय सरकार ने 1 अक्टूबर 2019 को नए नियम बनाए थे जिनके मुताबिक अब ड्राइविंग लाइसेंस(DL) एंड रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट(RC) एक ही रंग के होंगे. आईये जानते हैं इन्हें अप्कलाई करने के सिंपल स्टेप्स के बारे में.

घर बैठे ड्राइविंग लाइसेंस का ऐसे करें आवेदन

यदि आप घर बैठे बैठे अपना लाइसेंस बनवाने की सोच रहे हैं तो बता दें कि अब आपको आरटीओ के चक्कर लगाने की कोई आवश्यकता नहीं है बल्कि आप नीचे दिए आसान स्टेप्स को फॉलो करके अपना ड्राइविंग लाइसेंस व आरसी मिनटों में बनवा सकते हैं:

1. ऑनलाइन आवदेन के लिए आपको पहले लर्निंग लाइसेंस बनवाना होगा. जिन लोगों ने आज तक लाइसेंस नहीं बनवाया उन सब के लिए लर्निंग लाइसेंस आवश्यक है. इसकी फीस मात्र 200 रूपये रखी गई है. इसके लिए आपकी उम्र कम से कम 18 वर्ष की होना अनिवार्य है.

2. अब आप लाइसेंस अप्लाई करने के लिए राजमार्ग मंत्रालय की अधिकारिक वेबसाइट https://parivahan.gov.in/sarathiservice10/stateSelection.do पर विजिट करें. यहाँ आप सबसे पहले अपना राज्य चुने. राज्य चुनाव के बाद आपके सामने एक फॉर्म खुलेगा. उसे फिल कर दें.

3. फॉर्म भरने के बाद आपको एक नंबर जनरेट करके दिया जाएगा, उस नंबर को कहीं नोट करके रख लें. यहाँ आपको अपनी उम्र का प्रमाण पत्र, एड्रेस प्रमाण पत्र, आईडी प्रूफ अटैचमेंट करने के लिए कहा जाएगा, क्रमवार सब डाक्यूमेंट्स अपलोड कर दें.

4. अब आपको अपने डिजिटल सिग्नेचर अपलोड करने बोला जाएगा जिसके बाद आपको ड्राइविंग टेस्ट के लिए एक स्लॉट बुक करना होगा. स्लॉट का चयन करके फीस का भुगतान कर दें. इसके पश्चात आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक मेसेज आएगा, उसे सेव कर लें.

5. अब बताई गई तारिख पर नजदीकी आरटीओं जा कर ड्राइविंग टेस्ट दे दें. यह ऑनलाइन टेस्ट होता है जहाँ आपको वर्तमान यातायात नियमों के अनुसार कुछ सवाल पूछे जायेंगे जिनका जवाब सही देने पर आप रिजल्ट आएगा.

6. यदि आप इस टेस्ट में पास होते हैं तो आपको अगले 48 घंटों के अंदर अंदर आपका लर्निंग लाइसेंस मिल जाएगा जिसकी अवधि 6 महीनों की होती है. लर्निंग लाइसेंस मिलने के एक महीने बाद आप दोबारा लाइसेंस की अवधि आगे बढ़ा सकते हैं जोकि आपका परमानेंट लाइसेंस बन जाएगा.

Previous articleकोरोना की इस दवा का कोर्स 1.75 लाख रुपए का – कम्पनी बोली दवाई सस्ती हैं
Next articleचाईना ने LAC पर तैनात किए 20 हजार सैनिक, भारत ने भी बढ़ाई सैनिकों की संख्या