अब कबाड़ होने से बच सकती हैं आपकी 10 साल पुरानी डीजल कार – नया अप्डेट

441

जैसा की हम सब जानते हैं की दिल्ली NCR में आने वाले जिलों में 10 वर्ष पुराने डीजल वाहनों को जब्त करके उसका स्क्रैप किया जा रहा हैं। दरअसल दिल्ली व दिल्ली NCR में पड़ने वाले हरियाणा के 14 जिलों फरीदाबाद, गुरुग्राम, नूंह, रोहतक, सोनीपत, रेवाड़ी, झज्जर, पानीपत, पलवल, भिवानी, दादरी, महेंद्रगढ़, जींद और करनाल में 10 साल पुराने डीजल वाहन बंद करने के आदेश दिए गये हैं।

अब इसके लिए दिल्ली सरकार ने तोड़ निकाल लिया हैं। अब आप भी अपने 10 साल से अधिक पुराने वाहनों को स्क्रैप होने से बचा सकते हैं। पुराने डीजल वाहनों में इलेक्ट्रिक किट लगाकर रेट्रो फिट कर, कार को कबाड़ बनने से बचाते हुए दोबारा सड़कों पर उतारा पर जा सकेगा। अब आप भी अपनी लाखों की कार को रेट्रो फिटमेंट के जरिये इलेक्ट्रिक वाहनों में बदल सकते हैं।

आपको बता दे की इलेक्ट्रिक किट के लिए दिल्ली सरकार के साथ मिलकर निजी एजेंसियों का पैनल तैयार कर रही हैं। पुराने वाहनों की मियाद खत्म होने के बाद भी रेट्रो फिटमेंट से बगैर प्रदूषण फैलाए इलेक्ट्रिक वाहन भी रोड पर फर्राटा भर सकेंगे। केजरीवाल सरकार ने 10 साल से अधिक पुराने डीजल वाहनों को 1 जनवरी, 2022 से सड़क पर उतरने से रोकने का फैसला लिया है। इसके तहत मियाद पूरी कर चुके वाहनों को डी-रजिस्टर कर दिया जाएगा।

Previous article1 दिन पहले मिला पद्मश्री और अगले दिन बैठे धरने पर – जानिए वजह
Next articleध्यान दें – 2 महीने आगे बढ़ी GST रिटर्न भरने की समयसीमा