कानपुर में पुलिस टीम पर हमला, 8 पुलिसवाले शहीद और कई घायल

190

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कानपुर (Kanpur) में आज सुबह पुलिस टीम हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे (Vikas Dubey) को पकड़ने उसके घर गयी थी. अपराधियों ने पुलिस टीम पर गोलीबारी कर दी. इस मुठभेड़ में 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए और कई गंभीर रूप से घायल हो गए है. बता दें कि सभी पुलिस कर्मियों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

बता दें कि पुलिस की टीम कानपुर के बीकरू गांव (Bikaru village) में विकास दुबे को पकड़ने गई थी. विकास दुबे का बदमाशी में लंबा आपराधिक इतिहास रहा है. विकास दुबे के खिलाफ हाल ही में एक मामला दर्ज कराया गया था. इसी मामले में पुलिस विकास को गिरफ्तार करने गई थी. मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया हैं कि विकास दुबे व उसकी गैंग को पता चल गया था कि पुलिस की इतनी भारी भरकम टीम गांव में उसे पकड़ने आ रही है. इसके बाद विकास दुबे की गैंग के लोगों ने पूरी प्लानिंग के साथ गांव में घुसने वाले रास्ते में JCB खड़ा करके रास्ता को रोक दिया. इतना ही नहीं विकास दुबे की गैंग के लोग घरों की छतों पर घात लगाकर बैठे हुए थे. जैसे ही पुलिस की टीम गांव में घुसी तो गैंग ने पुलिस वालों पर हमला कर दिया.

छतों पर बैठे गैंग के बदमाशों के लिए पुलिस पर निशाना लगाना आसान था और पुलिस टीम को इस तीन तरफा हमले से संभलने का मौका तक नहीं मिला. रिपोर्ट्स के अनुसार इस गोलीबारी के बाद विकास दुबे और उसके गुर्गे अंधेरे का फायदा उठाकर वहाँ से फरार हो गए. इस हमले में यूपी के डीजीपी (DGP) एचसी अवस्थी (HC Awasthi) ने बताया कि हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के खिलाफ धारा-307 के तहत मामला दर्ज़ किया गया था. इस मामले में पुलिस विकास दुबे को पकड़ने गई थी. लेकिन उसकी गैंग ने रास्ते में JCB खड़ा करके पुलिस टीम का रास्ता रोक दिया. इस मुठभेड़ में हमारे आठ पुलिसकर्मी शहीद हुए.

Previous articleGoogle ने डेटा चोरी के आरोप में 25 ऐप को Play Store से हटाया
Next articleहरियाणा: इस साल नहीं होंगे पंचायत चुनाव – दुष्यंत चौटाला