रक्षाबंधन: बहनें करती रह गई भाइयों का इंतजार – 2 भाई नहर में डूबने के बाद लापता

168

रक्षा बंधन का त्यौहार भाई और बहनों के आपसी प्रेम और स्नेह को दर्शाता है और अपने साथ साथ ढेरों नई खुशियाँ लाता है. लेकिन उन बहनों का क्या, जिनके भाई उनकी आँखों से ओझल हो गए हो? बीते दिन हरियाणा के करनाल के घोघडीपुर से एक दुखद घटना सामने आई है. जहाँ तीन युवक पश्चिमी नहर में डूब गये. हालाँकि इनमे से एक को ग्रामीणों की मदद से बचा लिया गया लेकिन अन्पाय दोनों पानी के बहाव में दूर बह गए.

तीसरे युवक की हालत गंभीर 

मिली जानकारी के अनुसार जिस युवक को बचाया गया है, उसकी हालत अभी भी नाजुक बनी हुई है. मौके पर पहुंची पुलिस टीम गोताखोरों के साथ अन्य दो युवकों को ढूँढने की कोशिशों में जुटी हुई है. बताया जा रहा है कि यह तीनो दोस्त रविवार की छुट्टी एन्जॉय करने के लिए गाँव की नहर पर गए थे. रजवाहा नहर में नहाने के दौरान उन्हें एक लकड़ी का बड़ा टुकड़ा वहां तैरता हुआ दिखा. जिस पर बैठने की जिद्द करते हुए २ युवक अंकुश और संदीप ने की और आगे बढ़ कर उस तक पहुँचने का प्रयास किया. लेकिन पानी का बहाव इतना तेज़ था कि दोनों दूर बहते चले गए.

बहनें करती रही भाईओं का इंतज़ार

बताया जा रहा है कि तीनों युवक करनाल में नौकरी करते थे. इन भाईओं की बहनें राखी बाँधने के लिए घर पर उनका बेसब्री से इंतज़ार कर रही थी लेकिन हादसे के बाद तीनों युवक घर नहीं पहुंचे तो इन बहनों की राखी सूनी रह गई. जो युवक लापता है, उनकी पहचान अंकुश और राजेन्द्र के तौर पर की गयी है. जबकि तीसरे युवक संदीप को करनाल के ट्रॉमा सेंटर में रखा गया है जहाँ अब भी उसकी हालत गंभीर है.

Previous articleओमान के सुल्तान ने भारतीय राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा के लिए चलाई थी गाड़ी
Next articleहरियाणा में 4 अगस्त से खुलेंगे सभी कॉलेज – जानिए क्या होंगे नियम