बाप ने पाई-पाई जोड़ कर घर बनाने के लिए इक्कठे किए थे पैसे, बेटे ने चुरा कर बांटे मजदूरों में

158

अंबाला: जहाँ एक तरफ हरियाणा इन दिनों कोरोना वायरस की चपेट में आया हुआ है. वहीँ यहाँ के अंबाला में एक अजीबोगरीब मामला देखने को मिला है. दरअसल, यह मामला एक ऐसे बेटे का है, जिसकी हरकत की वजह से अब उसे जेल की हवा खानी पड़ रही है. इस बेटे ने अपने ही पिता के लाखों रूपये की रकम चुरा ली और फिर से गायब हो गया. जब पिता ने रूपये चोरी होने की सूचना पुलिस को दी तो जांच के बाद पुलिस को बेटे पर शक हुआ.

फिलहाल बाप से पैसे चुरा कर फरार होने वाले बेटे को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. बता दें कि आरोपी बेटे ने पिता के 12 लाख 41 हज़ार रूपये चुराये थे. जब पुलिस ने उसको हिरासत में लिया तो वह बाप के आगे गिडगिडा कर रहम की भीख मांगने लगा. लेकिन पिता ने पुलिस को कहा कि वह उनके बेटे के साथ ऐसा ट्रीटमेंट करें जैसे आम अपराधी को देते हैं ताकि आगे जा कर भविष्य में उनका बेटा चोरी या बुरी संगत से दूर रहे.

जब पूछताछ के दौरान बेटे से गुरदेव सिंह से खर्ची गई रकम के बारे में सवाल किये गये तो उसने बताया कि उन रुपयों में से 2 लाख रूपये उसने सेकंड हैंड आल्टो कार खरीदने में खर्च किये थे. 2.31 लाख उसने अपनी बुआ की बेटी को दिए और 8 हज़ार रूपये की महंगी शराब पी ली. जब इतनी सारी अय्याशी करके वह थक गया तो उसने लॉकडाउन के दौरान घरों की तरफ पैदल लौटने वाले मजदूरों को 500-500 रूपये बाँट दिए.

जानकारी के अनुसार पिता ने यह रकम घर बनाने के लिए रखी थी. जब 12 मई को वह ट्रक का टायर बदलवाने के लिए यमुनानगर गये तो पीछे से बेटे ने घर से 12.41 लाह रूपये चुरा लिए और घर से भाग निकला. अगले दिन उनकी भांजी ने उन्हें 2.31 लाख रूपये यह कह कर वापिस दिए कि उनका बेटा गुरदेव पकड़ा गया था. जिसके बाद उन्हें समझ आया कि यह चोरी किसी और ने नहीं बल्कि उनके अपने बेटे ने ही की है. फिलहाल पुलिस ने 5 लाख रूपये तक का हिसाब किताब गुरदेव सिंह से ले लिया है जोकि उसने अय्याशी और श्रमिकों को बाँट कर उड़ा दिए थे.

Previous article10वीं और 12वीं की परीक्षा होगी 1 जुलाई से, बोर्ड ने जारी की डेटशीट (CBSE)
Next articleआज पूरे हरियाणा में दौड़ी रोडवेज बसें, सभी इंडस्ट्रीज और बाजार खोलने में मिली छूट