ओमान के सुल्तान ने भारतीय राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा के लिए चलाई थी गाड़ी

227

ओमान के सुल्तान काबूस बिन सईद अल सईद ने लगभग 50 वर्षों तक ओमान की गद्दी पर राज किया था. आप लोगों में से बहुत कम लोग ही जानते होंगे कि साल 1994 में भारतीय राष्ट्रपति श्री शंकर दयाल शर्मा ओमान का दौरा करने के लिए पहुंचे थे. ऐसे में जब उनकी एयर इंडिया फ्लाइट ओमान राज्य में लैंड की तो तीन दिलचस्प घटनाएं घटित हुईं थी.

  1. 1. ओमान के सुलतान काबूस कभी किसी देश के प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति या उच्च अधिकारी को खुद रिसीव करने नहीं जाते थे लेकिन जब शंकर दयां वहां पहुंचे तो वह उन्हें लेने के लिए खुद एयरपोर्ट पहुंचे थे.
  2. जब फ्लाइट लैंड हुई तो भारतीय राष्ट्रपति शंकर दयाल खुद सीडियां उतर कर नहीं आए बल्कि ओमान ने सुल्तान काबूस उन्हें उनकी सीट से लेने के लिए खुद सीडियां चढ़ कर वहां पहुंचे थे.
  3. जब भी किसी देश का प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति दूसरे देश दौरा करने पहुँचता है तो शाही अंदाज़ से सेना के जवान उन्हें गाड़ी में लेने आते हैं. लेकिन ओमान के सुल्तान काबूस ने राष्ट्रपति शंकर दयाल को खुद गाड़ी चला कर उनकी मंजिल ता पहुँचाया था.

बाद में जब संवादाताओं ने उनसे नियम तोड़ने की वजह पूची तो ओमान के सुलतान काबूस ने जवाब दिया कि, “मैंने श्री शर्मा को इसलिए रिसीव नहीं किया कि वह भारत के राष्ट्रपति हैं, बल्कि इसलिए मैं उन्हें लेने गया क्यूंकि मैंने भारत में अध्ययन के दौरान यह चीज़ें सीखी हैं.” काबूस ने बताया कि जब वह भारत के पुणे में पढ़ाई करते थे तो उनके शिक्षक ने उन्हें ‘अतिथि देवो भव:” का पाठ पढाया था जोकि तब उन्होंने बखूभी निभाया था.

Previous articleअब हरियाणा की 8वीं कक्षा में भी होगा बोर्ड – तैयारियों में जुटा हरियाणा बोर्ड
Next articleरक्षाबंधन: बहनें करती रह गई भाइयों का इंतजार – 2 भाई नहर में डूबने के बाद लापता