झाड़ा लगाने वाला मौलवी चूमता था हाथ – संपर्क में आए 19 लोग को कोरोना

283

लॉकडाउन में सरकार की सख़्त हिदायतों के चलते मंदिर-मस्जिद सब बंद थे. लेकिन झाड़-फूंक करने का काम जारी था. मामला MP मध्यप्रदेश से सामने आया हैं. जहां के असलम बाबा की कोरोना से 4 जून को मौत हो गयी. मौलवी की जान जाने के बाद उसके संपर्क में आए लोगों के कोरोना पॉजिटिव निकलने का सिलसिला जारी है. बता दें की अब तक बाबा के सीधे संपर्क में आने वाले 19 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिले हैं. इसके अलावा प्रशासन ने 29 बाबाओं को क्वारंटाइन सेंटरों पर भेजा दिया है.

मध्यप्रदेश के रतलाम ज़िले के नयापुरा में यह मौलवी झाड़/फूंक करके लोगों का इलाज करता था और ताबीज देता था. जानकारी के मुताबिक इसके पास लोग बड़ी संख्या में इलाज के लिए जाते थे और यह बाबा कभी-कभी लोगों के हाथ भी चूमता था. स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक जितने लोग भी इसके संपर्क में आने के बाद कोरोना संक्रमित हुए हैं वो सभी नयापुरा क्षेत्र के ही है. इसके बाद प्रशासन सभी बाबाओं पर भी एक्शन ले रहा है. प्रशासन ने अब तक कई बाबाओं को क्वारंटाइन कर दिया है.

मंगलवार रात आई एक रिपोर्ट में जिले के 24 नए लोग संक्रमित पाए गये. जिससे ज़िले में हड़कंप मच गया है. हैरानी की बात यह है कि सरकारों द्वारा सतर्कता को लेकर इतना प्रचार-प्रसार करने के बावजूद भी कुछ लोग बाबाओं/मौलवियों के पास कोरोना का इलाज कराने पहुंच गए थे. यह मौलवी लोगों का हाथ चूमकर कोरोना को भगा रहा था.

Previous articleकोरोना से बचने का सबसे अच्छा तरीका – दुकानदार ने किया अविष्कार
Next article2 दिन के लिए हरियाणा-पंजाब बॉर्डर सील, E-PASS के बिना No-Entry