हरियाणा का ये शहर शिमला और मनाली से भी ठंडा – टूट गये सारे रिकॉर्ड

197

1 जनवरी यानी नया साल अब तक का सबसे ठंडा दिन रहा हैं। मौसम विभाग के अनुसार अगर पिछले 2 दिनों की बात करें तो हरियाणा के पश्चिमी हिस्सें जैसे हिसार, नारनौल और फतेहाबाद में तापमान शून्य से कम दर्ज किया गया है। वहीं अगर पंजाब की बात करें तो पंजाब के पश्चिमी हिस्सों, बठिंडा जैसे इलाके में भी तापमान शून्य से कम दर्ज किया गया है। बता दें कि हरियाणा व पंजाब के कई हिस्सों के नैशनल हाईवे पर कोहरे की वजह से विजिबिलिटी काफी कम है।

मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ दक्षिण हरियाणा से शुरू होकर हरियाणा व पंजाब के दूसरे हिस्सों में प्रवेश करेगा। बता दें कि 3 और 4 जनवरी को कई जगहों पर अच्छी बारिश होने के साथ-साथ बिजली गरजने की सम्भावना भी जताई जा रही हैं। मौसम विभाग के अनुसार पहाड़ी इलाक़ों में कल रात से भारी बर्फबारी होगी जबकि 3 और 4 जनवरी को ऊंचे पहाड़ों पर बर्फबारी बढ़ेगी। कुल मिलाकर अगले तीन दिन तक मौसम खराब रहेगा।

हरियाणा प्रदेश में कंपकमाने वाली ठंड लगातार बढ़ती जा रही है और खास कर रात समय तापमान में गिरावट आ रही है। आज हिसार में न्यूनतम तापमान माइनस -1.2 डिग्री तक पहुंचा गया है। आपको बता दें कि हिसार में 24 सालों मे सबसे ठंडी रात आई है। ये कहा जा सकता है कि हिसार शहर अब मनाली व शिमला से भी ज्यादा ठंडा हो गया है। जिसके कारण हिसार में जन जीवन काफी प्रभावित हुआ है।

मौसम विभाग के मुताबिक पहाड़ी इलाक़ों में बर्फ़बारी होगी व मैदानी इलाक़ों में बारिश रहेगी। मैदानी इलाक़ों में बारिश के बाद कोहरे से राहत मिलेगी। बता दें की 5 जनवरी को फिर से कोहरा पड़ सकता हैं, जिसके बाद ठंड ओर ज़्यादा बढ़ेगी। सुरेंद्र पाल ने एक अख़बार को दी जानकारी में बताया कि 3 और 4 जनवरी को शिमला और उसके साथ वाले इलाकों में काफी बर्फबारी की संभावना है। ऊंचाई वाले पहाड़ी क्षेत्रों में जबरदस्त बर्फ बारी होगी ऐसी संभावना है। पर्यटकों को ऊंचाई वाले पहाड़ी क्षेत्रों में जाने से बचना चाहिए।

Previous articleहरियाणा: छोटे से कस्बे की छोरी बनी भारतीय सेना में कैप्टन
Next article26 जनवरी की तैयारी में लगे किसानों के जहाज – अगर नहीं हुआ समाधान तो होगी ट्रैक्टर परेड